कोरिया. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के कोरिया (Korea) जिले की मनेंद्रगढ़ पुलिस (Police) ने हत्या (Murder) के एक मामले में साजिश रचने वाले को 9 साल बाद गिरफ्तार (Arrest) करने का दावा किया है. एक पत्नी द्वारा पति को दूध में जहर मिलाकर हत्या करने के मामले में साजिश रचने वाला आरोपी फरार था. आरोपी को मनेन्द्रगढ़ पुलिस (Police) ने उस वक्त गिरफ्तार किया, जब वो अपने घर परिजनों से मिलने आया था. पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर कानूनी प्रक्रिया के बाद कोर्ट में पेश किया.

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, 6 फरवरी 2010 को मनेंद्रगढ़ के काली मंदिर रोड निवासी अरविंद चौहान की संदेहास्पद परिस्थितियों में मौत (Death) हो गई थी. इस मामले में जब पुलिस ने जांच-पड़ताल की तो पता चला कि मृतक की पत्नी सुधा चौहान ने जो दूध (Milk) अपने पति को पीने के लिए दिया था, उसमें जहर मिला हुआ था. इसे पीने से अरविंद की मौत हो गई थी. इसी मामले में साजिश रचने वाला आरोपी गिरफ्तार किया है. पुलिस को इसकी तलाश लंबे समय से थी.

स्पेशल टीम का गठन

मनेन्द्रगढ़ थाना प्रभारी तेजनाथ सिंह ने बताया कि इस मामले में ग्राम सेवरा निवासी रामकृष्ण मिश्रा आत्मज नंद कुमार मिश्रा फरार चल रहा था. इसकी पुलिस द्वारा लगातार पतासाजी की रही थी. लेकिन पुलिस को सफलता नहीं मिल रही थी, जिसके बाद पुलिस ने वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देश पर इस मामले के लिए स्पेशल पुलिस टीम का गठन किया. इसमें एएसआई लक्ष्मी कश्यप, आरक्षक दीप तिवारी, राजकुमार सेन और प्रमोद यादव को शामिल किया. इस बीच पुलिस टीम को मुखबिर से सूचना मिली कि फ़रार आरोपी अपने घर आया हुआ है. जिसपर कार्रवाई करते हुए पुलिस टीम ने घेराबंदी कर रामकृष्ण मिश्रा को गिरफ़्तार कर लिया. बता दें की इस मामले में 18 जून 2010 को मृतक की पत्नी सुधा चौहान की गिरफ्तारी हुई थी. जो आजीवन कारावास की सजा भुगत रही है.