नई दिल्ली। क्या आप जानते हैं  कि देश में एक ऐसी भी जगह है, जहां पुलिस की एंट्री बैन है। ऐसे में प्रेमी जोड़ों के लिए यह जगह बेहद मुफीद है। यहां प्रेमी जोड़ों को पूरी सुरक्षा दी जाती है। यह जगह है हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले में बना शंगचूल महादेव मंदिर। जिस गांव में यह मंदिर है, वहां पर देशभर से आए प्रेमी जोड़ों को पनाह दी जाती है। यहां उनके रहने और खाने का पूरा इंतजाम किया जाता है। कोई भी इस मंदिर और इस गांव के अंदर प्रेमी जोड़ों को नुकसान नहीं पहुंचा सकता है।

मान्यता के कारण की जाती है हिफाजत
जो भी प्रेमी जोड़ा घर से भागकर इस मंदिर में पनाह लेता है, उसकी यहां जमकर मेहमानवाजी होती है। गांव के लोग प्रेमी जोड़ों का खूब सत्कार करते हैं। इसकी खास वजह भी है। दरअसल, गांव के लोगों का मानना है कि अगर वो प्रेमी जोड़ों को आश्रय नहीं देंगे तो भगवान रुष्ट हो जाएंगे। यहां प्रचलित मान्यता के अनुसार  इस जगह पर पांडव अज्ञातवास के लिए आए थे। तब लोगों ने उन्हें इसी मंदिर में छिपाया था। जब कौरव वहां आए तो खुद शंगचूल महादेव ने उन्हें गांव में आने से रोक लिया था। उन्होंने कहा था कि जो उनकी शरण में आए, उसकी वो रक्षा करेंगे।

कोई भी नहीं लगा सकता हाथ
इसी मान्यता के आधार पर आज भी यहां शरण लेने आए लोगों की रक्षा की जाती है। यहां सदियों से ये परंपरा चली आ रही है। हर प्रेमी जोड़े को यहां खाना और रहने के लिए जगह दी जाती है। इस गांव में पुलिस की एंट्री पर भी रोक है.।गांव में किसी तरह का हथियार लेकर आना मना है। साथ ही यहां कोई ऊंची आवाज में बात भी नहीं करता है। ऐसे में यह प्रेमी जोड़ों के लिए बेस्ट जगह है।