निर्माण श्रमिकों के बच्चों के लिए 52 करोड़ की लागत से श्रमोदय आवासीय स्कूल बनेगा। मथुरी में 6.070 हेक्टेयर जमीन दी है। रतलाम शहर विधायक चेतन्य काश्यप के प्रयासों से स्वीकृत यह स्कूल मार्च 2021 में बनकर तैयार हो जाएगा। इसमें कक्षा 6ठी से 12वीं तक के 1200 विद्यार्थियों के लिए पढ़ाई, कापी-किताबें, खाना, ड्रेस, रहना और खेलने की सामग्री के साथ सब कुछ फ्री रहेगा। मप्र शासन के श्रम विभाग द्वारा स्वीकृत श्रमोदय आवासीय स्कूल में निर्माण श्रमिकों के बच्चों को उत्कृष्ट शिक्षा मिलेगी। पीआईयू को भवन निर्माण की एजेंसी बनाया है।

  • 5770 वर्ग मीटर में बनेगा स्कूल भवन
  •  600 छात्रों के लिए 9985 स्कवेयर मीटर में फर्नीचर के साथ भवन
  •  1 आवासगृह अधीक्षक के लिए 115.30 स्कवेयर मीटर में बनेगा
  •  12 आवास गृह स्टाफ के लिए 1120 वर्ग मीटर में बनेंगे आवास, हर आवास 65 स्कवेयर मीटर का
  •  6 आवासगृह कर्मचारियों के लिए 392 स्कवेयर मीटर में
  •  29831 स्कवेयर मीटर रहेगा कुल निर्माण क्षेत्र
  •  पेयजल व्यवस्था के लिए 2 बोरवेल
  •  200 केवी ट्रांसफार्मर से विद्युतीकरण
  •  500 मीटर बाउंड्रीवॉल
  •  300 मीटर सीवर लाइन
  •  500 मीटर आंतरिक रोड
  •  500 मीटर पहुंच मार्ग
  •  100 केएलडी का एचटीपी
  •  1 लाख लीटर का सम्पवेल
  •  300 मीटर ड्रेनेज सिस्टम
  •  300 मीटर सीवर लाइन
  •  स्कूल में बैडमिंटन और वालीबॉल कोर्ट भी बनाया जाएगा।
  •  श्रमोदय आवासीय विद्यालय की 5 साल तक की देख-रेख का जिम्मा निर्माण एजेंसी का रहेगा।
  • लाइब्रेरी, कैंटीन और खेल मैदान की सुविधा के साथ सौर ऊर्जा यूनिट की व्यवस्था रहेंगी
  • स्कूल में लाइब्रेरी के साथ कैंटीन, खेल मैदान की व्यवस्था की जाएगी। यहां टीवी, कूलर, एलसीडी प्रोजेक्टर, ग्रीन बोर्ड, सौर ऊर्जा यूनिट की व्यवस्था रहेगी।
श्रमोदय विद्यालय में विद्यार्थियों के लिए ज्यादा से ज्यादा सुविधाएं देने के प्रयास किया है। इसमें और भी सुविधाओं की आवश्यकता पड़ी तो उन्हें भी पूरा करवाया जाएगा।