रायपुर. कोरोना वायरस (Coronavirus) की वजह से पूरे देश में लॉकडाउन (Lockdown) कर दिया गया है. सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) की हिदायत लोगों को दी जा रही है. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) सरकार भी लोगों की हरसंभव मदद करने की कोशिश कर रही है. इसी कड़ी में उन लोगों की मदद करने के लिए सरकार सामने आई है जिनके पास राशन कार्ड (Ration Card) नहीं है. ऐसे लोगों को सरकार खोज रही है और उन तक राशन पहुंचाने की कवायद की जा रही है. अब राशन कार्ड विहीनों की खोज कर निगम द्वारा स्मार्ट सिटी (Smart City), समाज सेवी संगठनों (Social Service Organizations) की मदद से भोजन के पैकेट (Food Packet) और अनाज बांटा जाएगा.

बता दें कि रायपुर नगर निगम  (Raipur Nagar Nigam)  सर्वे कर ऐसे लोगों की खोज करेगा जिनके पास राशन कार्ड नहीं है. ऐसे लोगों की पहचान कर उन तक जरूरत के सामान पहुंचाए जाएंगे. इसके साथ ही सरकार ने सूबे के राशन दुकानदारों को सख्त निर्देश जारी कर कहा है कि दुकान पर लोगों की अनावश्यक भीड़ न हो. लोगों से भी सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) का पालन करने की लगातार अपील की जा रही है.

सर्वे करेगा रायपुर नगर निगम

रायपुर नगर निगम द्वारा राशन कार्ड विहीन दिहाड़ी मजदूर, भिखारी और अन्य लोगों का सर्वे किया जा रहा है ताकि उनके लिए भोजन की व्यवस्था कराई जा सके. रायपुर नगर निगम के कमिश्नर सौरभ कुमार ने बताया कि कलेक्टर एस भारतीदासन के निर्देश पर रायपुर नगर निगम क्षेत्र के सभी आठ जोनों में ऐसे गरीब लोगों तथा परिवारों का सर्वे किया जा रहा है, जिनके पास राशन कार्ड नहीं हैं. कमिश्नर का मानना है कि कुछ घुमन्तु किस्म के दिहाड़ी मजदूरों और भिखारियों और अन्य लोगों के राशन कार्ड बन नहीं पाए होंगे. उनका सभी आठ जोनों में युद्धस्तर पर सर्वे किया जा रहा है.

पार्षदों से ली जा रही मदद

रायपुर नगर निगम के कमिश्नर सौरभ कुमार के मुताबिक सर्वे के लिए जोन स्तर पर संबंधित वार्डों के पार्षदों की भी मदद ली जा रही है. कई पार्षदों के पास, बेसहारा, आवासहीन, भिखारी और दिहाड़ी मजदूरों की लिस्ट है. ज्यादातर पार्षदों ने लिस्ट उपलब्ध भी करवा दी है. प्राप्त नामों को आधार कार्डों से लिंक कर नाम फिल्टर किए जा रहे हैं. सर्वे करने के लिए सोमवार सुबह जोनों में अधिकारियों की बैठक भी रखी गई थी. उनकी सर्वे रिपोर्ट मंगलवार देर शाम तक फाइनल होकर मिल जाएगी.