नई दिल्ली । केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल से जनवरी में दिल्ली हाईकोर्ट के आदेश पर चांदनी चौक में निगम प्राधिकारों द्वारा ढहाए गए हनुमान मंदिर का पुनर्निर्माण कराने का अनुरोध करते हुए कहा कि स्थानीय लोगों की धार्मिक भावनाएं आहत हुई हैं। हर्षवर्धन चांदनी चौक से लोकसभा सदस्य हैं। उन्होंने कहा कि कारोबारियों समेत कई लोगों ने मुख्य चांदनी चौक के किनारे मंदिर का पुनर्निर्माण कराने के लिए उनसे संपर्क किया है। दिल्ली सरकार के लोक निर्माण विभाग द्वारा चलाई जा रही चांदनी चौक की सौंदर्यीकरण परियोजना के लिए अदालत के आदेश के बाद चांदनी चौक में कूचा महाजनी में स्थित प्राचीन हनुमान मंदिर को ढहा दिया गया था। मुख्य चांदनी चौक में एक स्थान पर 18 फरवरी को कुछ अज्ञात लोगों ने हनुमान का स्टील का एक मंदिर रख दिया। केंद्रीय मंत्री ने 21 जनवरी को भेजे अपने पत्र में कहा कि मुझे लगता है कि लोगों की धार्मिक भावनाएं काफी आहत हुई हैं। स्थानीय लोगों ने मांग की है कि पुराने मंदिर के पास मंदिर का पुनर्निर्माण कराना चाहिए। वहां पर एक ट्रांसफॉर्मर है और वहां पर जगह है, जहां इसका पुनर्निर्माण कराया जा सकता है। बहरहाल, पीडब्ल्यूडी ने स्टील का ढांचा रखने के संबंध में पुलिस में एक शिकायत देकर आवश्यक कार्रवाई की मांग करते हुए कहा है कि यह सौंदर्यीकरण कार्य में बड़ा अवरोधक है। गौरतलब है कि उत्तरी दिल्ली नगर निगम के महापौर जय प्रकाश ने बताया था कि  को उत्तरी निगम के अधिकारियों और भाजपा के वरिष्ठ नेताओं की उच्च स्तरीय बैठक हुई और यह निर्णय लिया गया कि चांदनी चौक में बनाए गए हनुमान मंदिर को वैध दर्जा दिलाने के लिए सदन में प्रस्ताव लाया जाएगा।