भारतीय महिला क्रिकेट टीम की विकेटकीपर बल्लेबाज तानिया भाटिया ने कहा है कि दिग्गज विकेटकीपर बल्लेबाज महेन्द्र सिंह धोनी से तुलना होना मेरे लिए सम्मान की बात है। पिछले साल महिला आईपीएल में तानिया ने जब तेजी से न्यूजीलैंड की सोफी डिवाइन को स्टंप किया तो प्रशंसकों को उनमें महेंद्र सिंह धोनी की झलक दिखने लगी। तानिया ने कहा, 'दरअसल, पिछले साल महिला आईपीएल के दौरान मैंने डिवाइन की गेंद पर स्टंप किया तो मेरी एक दोस्त ने मुझे स्क्रीनशॉट भेजा जिस पर लिखा था, 'यह धोनी स्टाइल है।' हालांकि इस खिलाड़ी ने कहा, 'धोनी से मेरी तुलना हो नहीं सकती है पर मुझे यह बहुत बड़ी तारीफ लगती है, जब लोग कहते हैं कि उन्हें मुझमें धोनी की झलक दिखाई देती है। दरअसल, यह बात मुझे अधिक मेहनत करने के लिए प्रेरित करती है। मैं उनसे प्रेरणा लेती हूं। उनका हाथ और आंखों का तालमेल कमाल का है।' धोनी के अलावा तानिया ऑस्ट्रेलिया के नंबर एक विकेटीपर बल्लेबाज रहे एडम गिलक्रिस्ट की बहुत बड़ी प्रशंसक हैं।
तानिया ने कहा, ' गिलक्रिस्ट मेरे आदर्श हैं। मैं आठ साल की थी जब मैं उनसे मिली थी। उस समय वह किंग्स इलेवन पंजाब के लिए खेल रहे थे। टीम का अभ्यास सत्र चल रहा था इसके बाद भी उन्होंने मुझसे बात की थी।' 16 साल की उम्र में तान्या को भारत 'ए' टीम में जगह मिली। इसके बाद वह भारतीय महिला टीम में जगह बनाने वाली चंडीगढ़ की पहली खिलाड़ी बनीं हैं। विकेटकीपिंग उन्हें विरासत में मिली है। तानिया ने कहा , ' क्रिकेट मुझे विरासत में मिला, मेरे पिता संजय भाटिया पंजाब के लिए रिजर्व प्लेयर थे और मेरे अंकल भी विकेटकीपर थे। मैं आठ साल की उम्र से ही विकेटकीपिंग करने लगी थी।'