श्रीनगर। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह जम्मू कश्मीर के दौरे पर हैं। गृह मंत्री के तौर पर अमित शाह पहली बार जम्मू- कश्मीर के दौरे पर पहुंचे हैं। श्रीनगर में  गृह मंत्री अमित शाह और राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने  ग्राम प्रधानों (सरपंच) से मुलाकात की है।इससे पहले गृह मंत्री अमित शाह ने 12 जून को आतंकी हमले में जान गंवाने वाले एसएचओ अनंतनाग अरशद खान के परिवार वालों से मुलाकात की। इस दौरान गृह मंत्री अमित शाह ने हाथ जोड़कर शहीद के परिजनों का सम्मान किया और उनसे बातचीत की।
बता दें, 12 जून को दक्षिणी कश्मीर के अनंतनाग में हुए आतंकी हमले में एसएचओ अरशद खान घायल हो गए थे। 16 जून को दिल्ली के एम्स में इलाज के दौरान वो शहीद हो गए थे। इस आतंकी हमले में 6 सुरक्षाकर्मी शहीद हुए थे।इस हमले में सीआरपीएफ के भी 5 जवान शहीद हो गए थे। श्रीनगर के रहने वाले अरशद खान साल 2002 में पुलिस सेवा में आए थे। उन्होंने सब-इंस्पेक्टर के तौर पर करियर की शुरुआत की थी। शहीद होने के समय वो अनंतनाग में SHO पद पर कार्यरत थे। शहीद अरशद खान के परिवार में माता-पिता, पत्नी निलोफर, पांच साल का बेटा अबुहान खान और दो साल का दनिम खान है। इसके अलावा अरशद का छोटा भाई भी है जो उनके साथ ही रहता था।

12 जून की शाम मोटरसाइकिल सवार आतंकवादियों ने सीआरपीएफ की पेट्रोलिंग पार्टी पर हमला कर दिया था। हमले में सीआरपीएफ के 5 जवान शहीद हो गए थे। जबकि घायलों में अरशद खान भी शामिल थे। आतंकियों की गोली लगने के बाद भी एसएचओ अरशद खान बहादुरी के साथ मोर्चे पर डटे रहे। जवाबी कार्रवाई में सुरक्षाबलों ने एक आतंकवादी को भी मार गिराया था।