ओसाका :  जी-20 सम्मेलन में हिस्सा लेने पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जापान के अपने समकक्ष शिंजो आबे से गुरुवार को मुलाकात की. इस दौरान दोनों शीर्ष नेता गर्मजोशी से एक दूसरे से मिले. पीएम मोदी और शिंजो आबे ने एक दूसरे को गले से लगा लिया. इस मुलाकात के दौरान दोनों देशों के बीच साझा हितों से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की. जापान में रीवा युग की शुरुआत के बाद से दोनों नेताओं के बीच यह पहली मुलाकात है. 

पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने साथ जी-20 सम्मेलन में हिस्सा लेने जापान पहुंचे भारतीय प्रतिनिधिमंडल के गर्मजोशी से स्वागत के लिये आबे का शुक्रिया अदा किया. उन्होंने जी-20 के अध्यक्ष के रूप में जापान के नेतृत्व की भी प्रशंसा की.
 

देश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा, "प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जी-20 शिखर सम्मेलन से पहले जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे से मुलाकात की. साझा हितों से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर चर्चा हुई. प्रधानमंत्री ने कहा कि वह इस साल वार्षिक सम्मेलन के लिये प्रधानमंत्री आबे के भारत दौरे को लेकर उत्सुक हैं." 

प्रधानमंत्री ने आबे और जापान के नागरिकों को रीवा युग की शुरुआत के लिये बधाई दी. रीवा नये युग के लिये इस्तेमाल किया जाने वाला शब्द है. यह दो अक्षरों "री" और "वा" से मिलकर बना है, जिसमें री का अर्थ है "आदेश" या "शुभ" अथवा "अच्छा" और वा का अर्थ होता है "भाईचारा".