मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत ने मंगलवार को जोधपुर लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से नामांकन दाखिल किया. इस समय वैभव ने साफ कहा कि उन्हें जयपुर की सरकार से भी लड़ना पड़ा तो लड़ेंगे और जोधपुर के विकास के लिए हर संभव प्रयास करेंगे. नामांकन भरने के बाद उन्होंने कहा कि उनकी पहली प्राथमिकता क्षेत्र का विकास है और इसके लिए वो दिल्ली(केंद्र) में जोधपुर की आवाज बनेंगे. जरूरत पड़ी तो जयपुर की सरकार(राज्य की गहलोत सरकार) से लड़कर जोधपुर के हितों की रक्षा करूंगा. पावटा चौराहे पर आयोजित नामांकन सभा में भी वैभव ने दौहराया कि 'मैं जनता की आवाज बनूंगा और जनता के संघर्ष में उनके साथ खड़ा रहूंगा.'
वैभव ने जोधपुर की जनता के हर दुख-सुख साथ रहने और उनके हक के लिए केंद्र और राज्य सरकारों से संघर्ष करने से पीछे नहीं हटने की बात कही. नामांकन प्रक्रिया के बाद वैभव के समर्थन में कांग्रेस का शक्ति प्रदर्शन या नामांकन सभा जोधपुर के पावटा चौराहे पर आयोजित हुई. इसमें मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, डिप्टी सीएम सचिन पायलट, प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे और राज्य सरकार के कई मंत्री सभा में मौजूद रहे. मंत्री उदयलाल आंजना, हरीश चौधरी, लालचंद कटारिया, सालेह मोहम्मद, शांति धारीवाल, बीडी कल्ला, डॉ. चंद्रभान, प्रतापसिंह खचरियावास, मानवेंद्र सिंह, दिव्या मदेरणा, ममता भूपेश,अश्क अली टांक और जितेंद्र सिंह समेत कई दिग्गज मौजूद रहे.