दुर्ग । भिलाई-3 के पदुम नगर गृह निर्माण सहकारी समिति के तहत निर्मित आवासीय कॉलोनी के रहवासियों की परेशानी जल्द ही खत्म होने वाली है। कमिश्नर श्री दिलीप वासनीकर की पहल पर अब इस कॉलोनी को नगर निगम भिलाई चरौदा में शामिल करने का प्रस्ताव परिसमापक ने नगर निगम कमिश्नर भिलाई चरौदा के पास आवश्यक कार्रवाई के लिए प्रेषित कर दिया है।
उल्लेखनीय है कि लंबे समय से कॉलोनी के निवासियों को सड़क बिजली पानी जैसी मूलभूत सुविधाएं नहीं मिल पा रही थी। यह मामला जैसे ही संभागायुक्त  वासनीकर के संज्ञान में आया उन्होंने कॉलोनी वासियों तथा संबंधित अधिकारियों की बैठक ली। जिसमे कॉलोनी वासियों द्वारा मांग दोहराई गई कि उनकी कॉलोनी को नगर निगम भिलाई चरौदा द्वारा अधिग्रहित किया जाए। संभागायुक्त वासनीकर ने इस मामले से जुड़ी प्रत्येक तकनीकी समस्या का समाधान करते हुए निर्देश जारी किए कि संस्था को कॉलोनी से जुड़े सभी आवश्यक दस्तावेज जैसे सम्पत्ति संपदा, ईडब्ल्यूएस हेतु खुली भूमि, मार्ग, पार्क आदि की भूमि के दस्तावेज, लेनदारी-देनदारी सहित न्यायालयीन प्रकरणों की जानकारी नगर निगम भिलाई चरौदा में प्रस्तुत करें। इसके बाद पदुमनगर के परिसमापक की अध्यक्षता में सितंबर माह में एक आम सभा आहूत की गई। जिसमें सर्व सम्मति से निर्णय लिया गया कि कॉलोनी नगर निगम को हस्तांतरित की जाए। इसके बाद परिसमापक द्वारा नगर निगम को सभी आवश्यक जानकारी भेज दी गई। संभागीय अधिकारियों बैठक में वासनीकर ने निर्देश दिए कि पदुमनगर कॉलोनी वासियों के हित में निगम कमिश्नर जल्द से जल्द आवश्यक कार्रवाही करें। उन्होंने कहा कि कॉलोनी के अधिग्रहण से यहां विकास कार्यों को तेजी मिलेगी और शासन की योजनाओं का लाभ मिल पाएगा।

न्यूज़ सोर्स : Good Morning Durg