कवर्धा। कोविड-19 कोरोना वायरस के संक्रमण के रोकथाम और नियंत्रण के लिए तिहारी सीजन को ध्यान में रखते हुए कबीरधाम जिले में जिला प्रशासन द्वारा सख्त कदम उठाएं जाएंगे। जिले के सभी नगरीय निकायों शहरां और कस्बों में संचालित व्यवसायिक प्रतिष्ठानों में संचालकों उनके कर्मचारियों और ग्राहकों के लिए मास्क अनिवार्य कर दिया गया है। इस अनिवार्यता के तहत अब सभी छोटे-बड़े व्यवसायिक प्रतिष्ठानों के संचालकों व दुकानदारों को मास्क लगाना होगा। इसी तरह सभी ग्राहकों को मास्क लगाकर अंदर प्रवेश दिए जाएगे। 
कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा ने चेम्बर ऑफ कामर्स, व्यापारी संगठन और अधिकारियों की संयुक्त बैठक लेकर कहा कि बिना मास्क लगाकर दुकान संचालन करने वाले और बिना मास्क के ग्राहकों को अपनी समाग्री बेचने वाले दुकानदारों, प्रतिष्ठान संचालकों पर कड़ी कार्यवाही करते हुए दुकान व प्रतिष्ठान सील किए जाएंगे। कलेक्टर श्री शर्मा ने कहा कि इसी तरह जिले के सभी नगरीय निकायों में बिना मास्क के सड़क पर अनावश्यक घुमने वालों व्यक्तियों पर भी विधिक कार्यवाही की जाएगी। उन्होने कहा कि एक व्यक्ति दिन में अगर शहर में एक से अधिक बार भी बिना मास्क के घुमते हुए पकड़े जाएंगे तो उन पर एक से अधिक जुर्माना की कार्यवाही की जाएगी। कलेक्टर ने कहा कि नगरीय निकायों क्षेत्र के सभी फल, फुल, ठेला और सब्जी दुकानदारों और ग्रामीण क्षेत्रों के सप्ताहिक हाट-बाजार में दुकानदार को अनिवार्य रूप से मास्क लगाना होगा। मास्क नहीं लगाने वाले इन संचालकों पर भी विधिक कार्यवाही की जाएगी। बैठक में चेम्बर ऑफ कामर्स व कवर्धा शहर के सभी व्यापारिक संगठन सदस्यों ने कोरोना वायरस के संक्रमण और नियंत्रण के लिए जिला प्रशासन द्वारा जारी सभी दिशा-निर्देशों का पालन करने का भरोसा दिलाया है। कलेक्टर ने जिले में मास्क की अनिवार्यता और सोशल डिस्टेंसिंग के लिए ग्राम पंचायतों और नगरीय निकायों में सतत रूप से मुनादी अथवा लाउडस्पीकर के माध्यम से जागरूकता संदेश देने के निर्देश दिए है। कलेक्टर ने ग्रामीण अंचलों में मुनादी कराने के लिए अनुविभागीय अधिकारी राजस्व और नगरीय निकाय क्षेत्रों में लॉउडस्कपीकर के माध्यम से प्रचार-प्रसार करने के लिए संबंधित नगरीय निकाय के अधिकारियों को निर्देश दिए है।   

कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा ने आज जिला कार्यालय के सभा कक्ष में कवर्धा शहर के व्यापारिक संगठन और अनुविभागीय अधिकारी, नगरीय निकाय के अधिकारियों की संयुक्त बैठक ली। कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा ने आगामी विभिन्न त्यौहारी सीजन को विशेष ध्यान में रखते हुए कोविड-19 कोरोना वायरस के संक्रमण के रोकथाम और नियंत्रण के लिए आवश्य दिशा-निर्देश दिए। उन्होने कहा कि कोरोन वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए इस तिहार सीजन में अनुसाशित, संयम और सतकर्ता के साथ सभी प्रतिष्ठान और व्यापार को सुचारू से संचालित करना चाहते है। इसके लिए सभी व्यापारिक संगठनों से सहयोग की अपेक्षा है। उन्होने देश विभिन्न शहरों और राज्यों की उदाहरण देते हुए कहा कि जहां तेजी से कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने में कामयाबी मिली थी, वहीं स्थानीय बडे त्यौहार पर वहां छुट देने से आज वहां फिर से तेजी से संक्रमण फैल रहा है।

कलेक्टर श्री शर्मा ने कहा कि राज्य शासन तथा भारत सरकार द्वारा कोरोन वायरस के रोकथाम के लिए व्यापक कदम उठाए जा रहे है। उन्होने कहा कि आगामी माह में लगातार बड़े त्यौहार का सीजन आने वाले है। अगर हम कोरोना वायरस के संक्रमण के रोकथाम और नियंत्रण के लिए सजग नही होंगे तो शहर में इसका संक्रमण का खतरा और बढ़ सकता है। बैठक में संयुक्त कलेक्टर अनिल सिदार, एसडीएम विपुल गुप्ता, प्रकाश टंडन, विनय सोनी सहित सभी व्यापरिक संगठन विशेष रूप से उपस्थित थे।

न्यूज़ सोर्स : www.goodmorningnation.com